सिंघु बॉर्डर पर स्थानीय लोगों और किसानों के बीच झड़प में तलवार लगने से SHO घायल, हालात हुए बेकाबू

पिछले 2 महीने से चल रहे किसान आंदोलन के बीच आज सिंघु बॉर्डर पर स्थानीय लोगों और किसानों के बीच झड़प हुई जिसके बाद हालात वहां बेकाबू होते देख पुलिस ने लाठी चार्ज किया। इसी बीच यह भी खबर आई हैं कि प्रदर्शनकारियों की तलवार से एक एसचएचओ भी घायल हो गया है।

पिछले 2 महीने से चल रहे किसान आंदोलन के बीच आज सिंघु बॉर्डर पर स्थानीय लोगों और किसानों के बीच झड़प हुई जिसके बाद हालात वहां बेकाबू होते देख पुलिस ने लाठी चार्ज किया। इसी बीच यह भी खबर आई हैं कि प्रदर्शनकारियों की तलवार से एक एसचएचओ भी घायल हो गया है। बता दें कि  दोपहर करीब 1 बजे नरेला की तरफ से आए लोग धरनास्थल पर पहुंचे और नारेबाजी करते हुए किसानों से बॉर्डर खाली करने की मांग करने लगे। इनका कहना था कि किसान आंदोलन के चलते लोगों के कारोबार ठप हो रहे हैं। करीब 1.45 बजे ये लोग किसानों के टेंट तक पहुंच गए और उनकी जरूरत के सामान तोड़ दिए। इसके बाद किसानों और लोगों के बीच झड़प शुरू हो गई। दोनों ओर से पथराव भी हुआ।

पुलिस ने बीच-बचाव की कोशिश की, लेकिन स्थिति बिगड़ते देख लाठीचार्ज कर दिया और आंसू गैस के गोले भी छोड़े। इस झड़प में कई लोगों को चोटें आई हैं। कुछ पुलिसकर्मियों को भी गंभीर चोटें लगी हैं। अलीपुर थाने के SHO पर तलवार से भी हमला हुआ है।

बतां दें कि इससे पहले किसान मजदूर संघर्ष समिति के नेता सतनाम सिंह पन्नू ने कहा कि 'केंद्र सरकार RSS के लोगों को भेजकर किसानों के धरनास्थल पर माहौल बिगाड़ रही है। कल (गुरुवार) उन्होंने दो बार ऐसा किया। लेकिन, कृषि कानूनों की वापसी होने तक हम वापस नहीं जाएंगे।'

सिंघु बॉर्डर पर सुरक्षाबलों की तैनाती बढ़ा दी गई है। धरनास्थल को चारों तरफ से ब्लॉक कर पक्के बैरिकेड्स लगाए गए हैं। उधर, टीकरी बॉर्डर पर भी भारी फोर्स तैनात है। क्योंकि, ये दोनों बॉर्डर ही किसान आंदोलन के अहम पॉइंट हैं।


Get the latest update about truescoop hindi, check out more about lathi charge, truescoop news, armer protest & singhu borderf

Like us on Facebook or follow us on Twitter for more updates.