केंद्र सरकार ने आठ साल पुराने वाहनों पर ग्रीन टैक्स लगाने लगाने के प्रस्ताव को दी मंजूरी

अब आठ साल पुराने वाहनों पर भी टैक्स लगाने वाला है। दरअसल, केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने पुराने वाहनों पर 'ग्रीन टैक्स' लगाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।

अब आठ साल पुराने वाहनों पर भी टैक्स लगाने वाला है। दरअसल, केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने पुराने वाहनों पर 'ग्रीन टैक्स' लगाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।

 आठ साल से पुराने वाहनों पर ग्रीन टैक्स लगाया जाएगा. फिटनेस प्रमाण पत्र दिए जाने के वक्त इस टैक्स का भुगतान करना होगा. फिलहाल, इस संबंध में औपचारिक रूप से अधिसूचना जारी करने से पहले इस प्रस्ताव को राज्यों को परामर्श के लिए भेजा जाएगा। 

प्रस्ताव के मुताबिक ट्रांसपोर्ट वाली गाड़ियों पर ग्रीन टैक्स, रोड टैक्स के 10 से 25% की दर से लगेगा. 15 साल के बाद पंजीकरण प्रमाणन के  नवीनीकरण के समय पर्सनल गाड़ियों पर ग्रीन टैक्स लगाया जाएगा. सार्वजनिक परिवहन वाहनों मसलन सिटी बसों पर कम ग्रीन टैक्स लगाया जाएगा. 

अत्यधिक प्रदूषित शहरों में रजिस्टर्ड गाड़ियों पर सबसे ज्यादा ग्रीन टैक्स (रोड टैक्स का 50%) लगेगा. डीजल और पेट्रोल इंजन वाली गाड़ियों के लिए कैटगरी होगी, जिन पर अलग-अलग दर से ग्रीन टैक्स लगेगा. उन लोगों को राहत मिलेगी जो सीएनजी, एलपीजी, इथेनॉल, इलेक्ट्रिक गाड़ियां चलाते हैं. ऐसे वाहनों को ग्रीन टैक्स के बाहर रखा जाएगा।

Get the latest update about roadtransport, check out more about Truescoop hindi, greentax, unionministry & truescoop news

Like us on Facebook or follow us on Twitter for more updates.