विश्वास मत में पाकिस्तानी पीएम इमरान खान की हुई जीत, समर्थन में पड़े 178 वोट

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की पीएम की कुर्सी जाते जाते बच गई. उन्होंने नेशनल एसेंबली में हुए विश्वास मत को जीत लिया।करीब एक घंटे तक चले विश्वास मत की प्रक्रिया में इमरान खान के समर्थन में वोट 178 वोट पड़े।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने नेशनल एसेंबली में हुए विश्वास मत को जीत लिया।करीब  एक घंटे तक चले विश्वास मत की प्रक्रिया में इमरान खान के समर्थन में वोट 178 वोट पड़े। तो वहीं विश्वास मत के दौरान विपक्ष एसेंबली से गायब रहा। नेशनल एसेंबली के स्पीकर ने घोषणा कर यह बताया कि इमरान खान के पक्ष में 178 वोट पड़े हैं। यानि कि अब इमरान खान की पीएम की कुर्सी सुरक्षति है। 

इमरान खान पाकिस्तान के इतिहास में दूसरे ऐसे प्रधानमंत्री हैं जो नेशनल एसेंबली में अपनी इच्छा से विश्वास मत का सामना किया। इससे पहले नवाज शरीफ ने सन् 1993 में स्वेच्छा से विश्वास मत का सामना किया था। 

बतां दें कि इमरान खान को नेशनल एसेंबली में 171 सांसदों का समर्थन चाहिए था क्योंकि सदन में कुल 342 सदस्यों में अभी 340 सदस्य हैं और दो सीटें खाली हैं। खान की पीटीआई के पास 157 सांसद हैं जबकि विपक्षी पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के 83 सदस्य हैं और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के 55 सांसद हैं।

वहीं इसस पहले सरकार के बहुमत पर चर्चा होने से पहले विपक्षी गठबंधन ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि वे विश्वास मत का बहिष्कार करेंगे और दावा किया कि सीनेट चुनाव में उनके उम्मीदवार की जीत ही प्रधानमंत्री के खिलाफ ‘अविश्वास प्रस्ताव’ है। 

पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (पीडीएम) के प्रमुख मौलाना फजलुर रहमान ने कहा कि शनिवार को होने वाले नेशनल असेंबली के सत्र में विपक्ष का कोई भी सदस्य शामिल नहीं होगा जिसमें प्रधानमंत्री खान विश्वास मत हासिल करेंगे। पीडीएम दस पार्टियों का विपक्षी गठबंधन है।


Get the latest update about Truescoop, check out more about pakistan, vote of confidence & imran khan

Like us on Facebook or follow us on Twitter for more updates.