पीएम मोदी ने की चौरी चौरा की ऐतिहासिक घटना के शताब्दी समारोह की शुरुआत, बोले- सरकार ने किसी पर कोई नया टैक्स नहीं लगाया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज गुरूवार को आजादी की लड़ाई के दौरान घटी चौरी चौरा की ऐतिहासिक घटना के शताब्दी समारोह की शुरुआत की। पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज गुरूवार को आजादी की लड़ाई के दौरान घटी चौरी चौरा की ऐतिहासिक घटना के शताब्दी समारोह की शुरुआत की। पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया औऱ इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक विशेष डाक टिकट भी जारी किया. पीएम मोदी ने कहा कि देश को  कभी चौरा चौरी की घटना नहीं भूलनी चाहिए, उन्होंने देश के लिए अपनी जान दी है।

इस खास मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदीबेन पटेल भी मौजूद थे. सरकार ने चौरी चौरा कांड के शहीदों के स्मारक स्थल और संग्राहलय का पुनरूद्धार किया है. वहां बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने इस संबोधन में कहा कि चौरी चौरा में जो हुआ वो सिर्फ एक थाने में आग लगाने की घटना नहीं थी, इससे एक बड़ा संदेश अंग्रेजी. हुकूमत को दिया गया. पीएम मोदी ने कहा कि इस साल देश की आजादी के 75 साल के वर्ष की भी शुरुआत होगी. पीएम मोदी ने कहा कि इस घटना को इतिहास में सही जगह नहीं दी गई, लेकिन हमें उन शहीदों को सलाम करना चाहिए। 

वहीं, पीएम मोदी ने कहा कि पहले बजट को वोटबैंक का बहीखाता बनाया गया था, लेकिन हमारी सरकार ने किसी पर भी कोई नया टैक्स नहीं लगाया है. किसानों को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि हाल ही में जो बजट पेश किया गया, ये देश की रफ्तार को बढ़ाने वाला है. बजट से पहले दिग्गज बोल रहे थे कि टैक्स बढ़ाना ही होगा, लेकिन सरकार  ने किसी पर भी बोझ नहीं डाला। 

पीएम मोदी ने कहा, ये दुर्भाग्य है चौरी चौरा शहीदों की जितनी चर्चा होनी थी, नहीं हो पाई.  इन शहीदों को इतिहास के पन्नों में जरूर जगह नहीं दी गई हो लेकिन यहां के शहीदों का खून यहां की मिट्टी में जरूर मिला हुआ है.  वो सब मां भारती की वीर संतान थे.  आजादी की ऐसी शायद ही कोई घटना होगी जिसमें 19 स्वतंत्रता सेनानियों को फांसी पर लटकाया गया हो.

पीएम मोदी ने कहा, चौरी चौरा की पवित्र धरती को मैं प्रणाम करता हूं. इस कार्यक्रम में अलग अलग स्‍वतंत्रता सेनानियों के परिजन भी मौजूद हैं उनका भी मैं अभिनंदन करता हूं. उन्‍होंने कहा कि 100 साल पहले जो हुआ वह केवल जेल जलाने का मसला नहीं था. यह आजादी के लिए उठाया गया एक नया कदम था.

Get the latest update about , check out more about Truescoop hindi, chauri chaura & narendra modi

Like us on Facebook or follow us on Twitter for more updates.