लाल किला पर झंडा फहराने वाले जुगराज का अलगाववादी से है संबंध?

26 जनवरी, गणतंत्र दिवस के दिन किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान लाल किले पर 'निशान साहिब' का झंडा फहराने वाले पंजाब के 23 साल के जुगराज सिंह अबतक लापता है। वहीं, लाल किले पर झंडा फहराने के बाद कई बार जुगराज के घर पर पुलिस दबिश दे चुकी है, मगर अब तक उसका कोई अता-पता नहीं है।

26 जनवरी, गणतंत्र दिवस के दिन किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान लाल किले पर 'निशान साहिब' का झंडा फहराने वाले पंजाब के 23 साल के जुगराज सिंह अबतक लापता है। वहीं,  लाल किले पर झंडा फहराने के बाद कई बार जुगराज के घर पर पुलिस दबिश दे चुकी है, मगर अब तक उसका कोई अता-पता नहीं है। 

 फिलहाल, संभावित पुलिस एक्शन की डर से जुगराज के माता-पिता घर छोड़कर भाग चुके हैं। अभी  उसके घर पर सिर्फ उसके बुजुर्ग दादा-दादी हैं। खुद जुगराज भी अब तक घर नहीं लौटा है। लाल किले की घटना के बाद सवाल उठ रहे हैं कि क्या जुगराज किसी अलगाववादी संगठन से जुड़ा है? क्या वह खालिस्तानी समर्थक है? मगर अब तक जो सूचना सामने आई है, उससे ये सभी सवाल निराधार प्रतीत हो रहे हैं। 

इशसे पहले जुगराज के परिवार वालों ने कहा कि उसका किसी भी अलगाववादी संगठनों से कोई लेना देना नहीं है। वह घर पर ही रहता है और खेती किसानी करता है। एक अखबार से बातचीत में जुगराज के दादा महल सिंह ने कहा था कि उनका पोता कभी किसी अलगाववादी आंदोलन से नहीं जुड़ा है। घटना के तीन दिन पहले ही जुगराज किसानों के आंदोलन में शामिल हुआ था। 

वहीं, पुलिस ने कहा कि लाल किले पर झंडा फहराने वाले जुगराज का न तो कोई अलगाववादियों के साथ लिंक है और न ही उसका कोई क्रिमिनल रिकॉर्ड है। जुगराज के पिता बलदेव सिंह गुरुद्वारों में निशान साहिब लगाने के एक्सपर्ट हैं और इस काम में जुगराज अक्सर ही उनकी मदद करता रहा है। वान तारा सिंह गांव के लोगों ने इस घटना को लेकर कहा कि जुगराज ने परिणाम की चिंता किए बगैर उसने अपने मन से झंडा फहराया होगा, क्योंकि उसे गुरुद्वारों में इसे फहराने का अनुभव था।

उधर, खालरा पुलिस स्टेशन के एसएचओ शमिंदरजीत सिंह ने कहा कि उन्होंने जांच की है कि परिवार को कोई क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं है। बता दें कि जुगराज के माता-पिता अभी अपना गांव छोड़कर भाग चुके हैं। वह अभी कहां है, इसकी जानकारी किसी को नहीं है। 


Get the latest update about jugraj singh, check out more about truescoop hindi, nishan sahib flag, truescoop news & Red fort

Like us on Facebook or follow us on Twitter for more updates.