चीन का दावा- लद्दाख में तनाव खत्म हुआ, चीन-भारत के सैनिकों ने पीछे हटना शुरू किया

चीन ने लद्दाख में तनाव खत्म होने का दावा किया है। चीन ने कहा- LAC पर चीन-भारत के सैनिकों ने पीछे हटना शुरू किया है। चीन की सरकार ने बुधवार को दावा किया कि लद्दाख में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर भारत के साथ 9 महीने से चल रहा टकराव खत्म हो गया है।

चीन ने लद्दाख में तनाव खत्म होने का दावा किया है। चीन ने कहा- LAC पर चीन-भारत के सैनिकों ने पीछे हटना शुरू किया है। चीन की सरकार ने बुधवार को दावा किया कि लद्दाख में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल पर भारत के साथ 9 महीने से चल रहा टकराव खत्म हो गया है। चीन के मुताबिक, बुधवार को दोनों ओर से फ्रंटलाइन पर तैनात सैनिकों की एक साथ वापसी शुरू हो गई। इससे पहले, चीनी मीडिया ने भी दावा किया था कि पैगॉन्ग लेक के दक्षिणी और उत्तरी इलाके से भारत-चीन की सेना ने डिसइंगेजमेंट की प्रोसेस शुरू कर दी है। हालांकि, भारत की ओर से इस मसले पर कोई बयान नहीं आया है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह गुरुवार को ईस्टर्न लद्दाख में अभी के हालात पर बयान देंगे। माना जा रहा है कि इसमें वे चीन के बयान पर भी जानकारी दे सकते हैं।

वहीं, चीन की मिनिस्ट्री ऑफ डिफेंस के स्पोक्सपर्सन वू कियान ने बताया कि चीन और भारत के बीच हुई कमांडर लेवल की 9वें दौर की बातचीत में डिसइंगेजमेंट पर सहमति बनी थी। इसके तहत ही दोनों देशों ने अपने सैनिकों को पैंगॉन्ग हुनान और नॉर्थ कोस्ट से पीछे हटाना शुरू कर दिया है। इसके बाद चीनी विदेश मंत्रालय का बयान आया। स्पोक्सपर्सन वांग वेनबिन ने कहा कि रूस में हुई बैठक में दोनों देशों के विदेश मंत्री इस मसले का हल निकालने पर राजी हुए थे।

इससे पहले भारत और चीन के बीच 24 जनवरी को 9वें राउंड की बातचीत 15 घंटे चली थी। इसमें भारत ने कहा था कि विवाद वाले इलाकों से सैनिक हटाने और तनाव कम करने के प्रोसेस को आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी अब चीन पर है। इस दौरान दोनों पक्ष कोर कमांडरों की 10वें दौर की बातचीत जल्द करने पर भी सहमत हुए थे, ताकि सैनिकों की वापसी का काम तेज हो सके।

गौरतलब है कि चीन और भारत की सेनाएं पूर्वी लद्दाख में पिछले साल अप्रैल-मई से आमने-सामने हैं। जून 2020 में गलवान में दोनों देशों के सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे। चीन के भी 40 से ज्यादा सैनिक मारे गए थे, हालांकि उसने कभी कबूल नहीं किया।

दोनों देशों के विदेश मंत्री और रक्षामंत्री भी इस मसले को सुलझाने के लिए बात कर चुके हैं। दोनों देशों ने लद्दाख के कुछ इलाकों से सेना हटाने पर सहमति जताई थी। इसके बावजूद सीमा विवाद का कोई हल नहीं निकल पाया।

Get the latest update about global times, check out more about Truescoop hindi, Truescoop news, LAC & Pangong lake

Like us on Facebook or follow us on Twitter for more updates.