लाल किले पर हुई हिंसा के फरार चल रहे एक मुख्य आरोपी लक्खा सिधाना ने शेयर किया वीडियों

26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर किसानों द्वारा निकाली गई ट्रैक्टर परेड के दौरान लाल किले पर हुई हिंसा के फरार चल रहे एक मुख्य आरोपी और गैंगस्टर से सामाजिक कार्यकर्ता बने लखबीर सिंह उर्फ लक्खा सिधाना ने शनिवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है।

26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर किसानों द्वारा निकाली गई ट्रैक्टर परेड के दौरान लाल किले पर हुई हिंसा के फरार चल रहे एक मुख्य आरोपी और गैंगस्टर से सामाजिक कार्यकर्ता बने लखबीर सिंह उर्फ लक्खा सिधाना ने शनिवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है। जिसमें सिधाना ने आरोप लगाया है कि केंद्र सरकार किसानों के खिलाफ झूठे केस दर्ज कर उन्हें डराने की कोशिश कर रही है। 

इस वीडियो में उसने अप्रत्यक्ष रूप से भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत पर भी हमला बोला है। सिधाना ने कहा कि किसान आंदोलन पर अब लोगों का कब्जा हो गया हो जोकि पंजाबी भी नहीं हैं। उसने कहा है कि किसानों का आंदोलन सात महीने पुराना है और अपने चरम पर पहुंच गया है।

सिधाना ने कहा कि हम 23 फरवरी को बठिंडा के मेहराज में एक किसान सभा का आयोजन करने जा रहे हैं। उसने बड़ी संख्या में लोगों से इस जनसभा में पहुंचने की अपील की है। यह वीडियो रात के वक्त किसी टेंट के अंदर में शूट किया गया है। वीडियो में दिख रहा है कि कई लोग जमीन पर सोए हुए हैं। लक्खा उनके बीच बैठकर वीडियो बना रहा है। इस वीडियो में वह कह रहा है कि 23 फरवरी को बड़ी संख्या में लाखों की संख्या में लोग पहुंचने चाहिए। बठिंडा जिले मेहराज पिंड में आओ, उधर ही प्रदर्शन रखा गया है। आओ मेरे भाइयो बड़ी संख्या में कोशिश करें ताकि पता लगे कि हम किसान आंदोलन के साथ हैं।

दिल्ली पुलिस इस हिंसा को लेकर अब तक 44 एफआईआर दर्ज कर चुकी है. जिसमें करीब डेढ़ सौ लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. हालांकि इस उपद्रव को लेकर किसी भी बड़े मास्टरमाइंड की पुलिस गिरफ्तारी नहीं कर पाई है. पुलिस लगातार उपद्रवियों की तस्वीरें जारी कर रही है साथ ही उनकी गिरफ्तारी पर इनाम की घोषणा कर रही है. लेकिन जिस तरीके से पुलिस के हाथ बड़ी कामयाबी नहीं लगी है उसने पुलिस की जांच पर भी सवाल खड़े करना शुरू कर दिया है.

बता दें कि, दिल्ली पुलिस 26 जनवरी को लाल किले पर हुई हिंसा के संबंध में पंजाब के इस गैंगस्टर लक्खा सिधाना की सरगर्मी से तलाश रही है। इस मामले में पुलिस ने सिधाना पर एक लाख रुपये का इनाम घोषित किया है। पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए अलग-अलग जगहों पर छापेमारी कर रही है, लेकिन अभी कामयाबी नहीं मिल पाई है।



Get the latest update about truescoop, check out more about farmer protest, lakha sidhana, social media & farm laws

Like us on Facebook or follow us on Twitter for more updates.