गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने फिर से गाड़े तंबू, दोबारा से शुरू किया किसान आंदोलन

दिल्ली बाॅर्डर पर एक बार फिर से किसानों ने अपना डेरा बसाना शुरू कर दिया है। गाजीपुर, सिंघु और टीकरी बॉर्डरों पर किसानों ने अपने तंबू लगाने शुरू कर दिए है। बतां दें कि 26 जनवरी गणंतत्र दिवस पर दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के बाद जहां सभी बॉर्डरों पर किसानों की संख्या घट गई थी

दिल्ली बाॅर्डर पर एक बार फिर से किसानों ने अपना डेरा बसाना शुरू कर दिया है।  गाजीपुर, सिंघु और टीकरी बॉर्डरों पर  किसानों ने अपने तंबू लगाने शुरू कर दिए है। बतां दें कि 26 जनवरी गणंतत्र दिवस पर दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के बाद जहां सभी बॉर्डरों पर किसानों की संख्या घट गई थी, वो एक बार फिर से बढ़ने लगी है। 26 जनवरी के बाद ऐसा लग रहा था कि अब आंदोलन लगभग समाप्त हो गया है, लेकिन गुरुवार शाम गाजीपुर बॉर्डर पर डटे भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत के वीडियो टीवी चैनलों पर चलने के बाद माहौल तेजी से बदल गया और किसानों का फिर से धरनास्थलों पर लौटने का सिलसिला शुरू हो गया है।

दरअसल, टीकरी और सिंघु बॉर्डर पर गुरुवार को गाजियाबाद प्रशासन द्वारा गाजीपुर बॉर्डर पर बिजली-पानी काटे जाने और टेंट हटाए जाने के बाद अब फिर से टेंट लगने शुरू हो गए हैं। हालांकि, इसके मंगलवार की घटना के मद्देनजर सभी जगहों पर भारी संख्या पर पुलिस बल भी तैनात कर दिए गए हैं।

वहीं किसान नेता राकेश टिकैत का कहना है कि हम धरनास्थल खाली नहीं करेंगे, हम पहले अपने मुद्दों पर भारत सरकार से बात करेंगे। सरकार जो भी करे हम गाजीपुर बॉर्डर नहीं छोड़ेंगे। जब तक कानून रद्द नहीं हो जाते और MSP पर नया कानून नहीं बन जाता हम यहां से नहीं जाएंगे।

Get the latest update about singhu border, check out more about truescoop news, farmer protest, farm laws & truescoop hindi

Like us on Facebook or follow us on Twitter for more updates.