एक तरफ दिल्ली में ट्रैक्टर रैली ने मचाया उत्तपात् तो दूसरी तरफ किसानों-पुलिस ने एक दूसरे को दिए गुलाब के फूल

गणतंत्र दिवस के मौके पर दिल्ली में किसानों द्वारा निकाली गई ट्रैक्टर रैली के दौरान प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली में जमकर उत्तपात मचाया। इतना ही नहीं प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली के लाल किले पर तिरंगे की बजाय अरना ही केसरी झंडा फरहाया जेस देखकर हर कोई दंग रह गया

गणतंत्र दिवस के मौके पर दिल्ली में किसानों द्वारा निकाली गई ट्रैक्टर रैली के दौरान प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली में जमकर उत्तपात मचाया। इतना ही नहीं प्रदर्शनकारियों ने दिल्ली के लाल किले पर तिरंगे की बजाय अरना ही केसरी झंडा फरहाया जेस देखकर हर कोई दंग रह गया। वहीं इन सब के बीच दिल्ली और यूपी के बॉर्डर पर कुछ ऐसे दृश्य भी देखने को मिले, जो दिल को छू जाए।

दरअसल, चिल्ला बॉर्डर पर किसान और पुलिसकर्मियों ने एक-दूसरे को फूल दिया. भारत किसान यूनियन (BKU) के यूपी अध्यक्ष योगेश प्रताप सिंह ने नोएडा पुलिस के एडिशनल डिप्टी कमिश्नर रणविजय सिंह को गुलाब का फूल भेंट किया. यहां तक कि उन्होंने प्रदर्शनकारियों द्वारा तैयार किए हुए खाने को भी खाया. यह तब हुआ जब अध‍िकारी ने बीकेयू (भानु) के सदस्यों और समर्थकों को प्रदर्शन स्थल पर जाने से नहीं रोका.

पिछले दो महीने से, राज्य पुलिस चिल्ला बॉर्डर तक पहुंचने के लिए लोगों को रोक रखा है। ट्रैक्टर को मेरठ और आगरा में ही रोक दिया गया. आज के ट्रैक्टर रैली में यूपी के किसान हिस्सा लेने कम पहुंच सके। नोएडा के एडिशनल डीसीपी ने बताया कि किसानों ने मुस्कुराते हुए उन्हें गुलाब के फूल दिए।

 बता दें कि बता दें कि चिल्ला बॉर्डर पर अब भी कुछ हलचल जारी है। कुछ किसान चिल्ला बॉर्डर से अपना प्रदर्शन शुरू किया, लेकिन वह निर्धारित रास्ते से भटक गए थे. करीब 2 किलोमीटर तक जाने के बाद उन्हें पुलिस द्वारा वापस भेज दिया गया।

गौरतलब है कि किसानों की ट्रैक्‍टर रैली के दौरान  राष्ट्रीय राजधानी में कई स्थानों पर पुलिस और प्रदर्शनकारी किसानों के बीच झड़प हुई है. पुलिस ने मंगलवार को किसानों पर तब लाठीचार्ज किया और आंसू गैस के गोले छोड़े जब पूर्व निर्धारित मार्ग से हटकर उनकी परेड आईटीओ सहित कई अन्य स्थानों पर पहुंच गई. किसान राजपथ की ओर जाना चाहते थे।

दिल्ली पुलिस ने किसानों को राजपथ पर आधिकारिक गणतंत्र दिवस परेड समाप्त होने के बाद निर्धारित मार्गों पर ट्रैक्टर परेड की अनुमति दी थी.हालांकि, उस समय अफरातफरी की स्थित पैदा हो गई जब किसान मध्य दिल्ली की ओर जाने पर अड़ गए।



Get the latest update about farmer protest, check out more about Truescoop Hindi, farm laws, tractor rally & truescoop news

Like us on Facebook or follow us on Twitter for more updates.