दिलजीत दोसांझ ने शेयर किया ‘भारतीय नागरिक होने का प्रमाण’ कहा- ट्विटर पर बोलने से कोई देशभक्त नहीं बनता

पिछले काफी दिनों से सोशल मीडिया पर अपनी बयानबाजी को लेकर चर्चा में आए पंजाबी सिंगर और अभिनेता दिलजीत दोसांझ एक बार फिर सुर्खियों में है। दरअसल, दिसंबर माहीनें में दिलजीत कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली के सिंघू बॉर्डर पर किसानों के प्रदर्शन में शामिल हुए थे।

पिछले काफी दिनों से सोशल मीडिया पर अपनी बयानबाजी को लेकर चर्चा में आए पंजाबी सिंगर और अभिनेता दिलजीत दोसांझ एक बार फिर सुर्खियों में है।  दरअसल, दिसंबर माहीनें में दिलजीत कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली के सिंघू बॉर्डर पर किसानों के प्रदर्शन में शामिल हुए थे। इस दौरान उन्होंने किसानों को अपना समर्थन भी दिया था। इस दौरान अभिनेता को एक तरफ सराहना मिली तो दूसरी ओर आलोचनाओं का भी सामना करना पड़ा। 

रविवार को अभिनेता और सिंगर दिलजीत दोसांझ ने अपने ट्विटर पर भारत के नागरिक होने का प्रमाण साझा किया। वित्त मंत्रालय द्वारा जारी "प्लेटिनम प्रमाणपत्र" से पता चलता है कि भारत सरकार ने उन्हें कर का भुगतान करने और वर्ष 2019-2020 के लिए आयकर रिटर्न दाखिल करने के लिए प्रमाणित किया है। प्रमाण पत्र में लिखा है, "हम इस महान राष्ट्र के निर्माण के लिए योगदान की मान्यता में, प्लेटिनम श्रेणी में करदाता की सराहना करते हैं।"

बतां दें कि इससे पहले एक्ट्रेस कंगना ने दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा पर निशाना साधते हुए कहा था कि 'प्रसिद्ध और जाने माने कलाकार मासूमों को भड़काते हैं। शाहीन बाग जैसे दंगे और किसान आंदोलन करवाते हैं तो क्या सरकार को उनके खिलाफ कार्रवाई या केस नहीं करना चाहिए? क्या इस तरह की देश विरोधी गतिविधियों में खुलकर हिस्सा लेने वालों के लिए कोई सजा नहीं हैं?'

कंगना के इस बयान के बाद दिलजीत ने कहा था कि पंजाबी सिंगर ने दिलजीत दोसांझ ने कहा कि 'गायब होने की बात तो छोड़ो। लेकिन पहले ये बताओ कि किसने उसे ये अधिकार दिया कि वो फैसला करें कि कौन देशद्रोही है और कौन देशभक्त? ये अधिकार उन्हें कहां से दिया जा रहा है? किसानों को देशद्रोही कहने से पहले कम से कम थोड़ी तो शर्म कर लो।' 



Get the latest update about truescoop News, check out more about Truescoop Hindi, diljit dosanjh & Indian citizen

Like us on Facebook or follow us on Twitter for more updates.