कोरोना को पछाड़ने में भारत बेहतर मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर वाले देश से भी आगे निकला

जहां एक तरफ कोरोना की दो वैक्सीन मिलने जा रही है, वहीं दूसरी तरफ कोरोना को हराने वालों का आंकड़ा 1 करोड़ के पार हो गया है। देश में अब तक 1.03 करोड़ लोगों को कोरोना हुआ और इनमें से 96.3% लोग ठीक भी हो गए।

जहां एक तरफ कोरोना की दो वैक्सीन मिलने जा रही है, वहीं दूसरी तरफ कोरोना को हराने वालों का आंकड़ा 1 करोड़ के पार हो गया है। देश में अब तक 1.03 करोड़ लोगों को कोरोना हुआ और इनमें से 96.3% लोग ठीक भी हो गए। 1.4% मरीजों की मौत हुई, जबकि 2.2% मरीजों का इलाज चल रहा है।

सबसे अच्छी बात ये है कि मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में 191 देशों में से 112वें नंबर पर होने के बावजूद हमारे यहां दुनिया के टॉप-20 संक्रमित देशों के मुकाबले सबसे तेज रिकवरी रेट है। अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, इटली, स्पेन जैसे देश जो मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में टॉप पर हैं, वे भी पीछे रह गए। भारत में हर 100 मरीज में से 96 ठीक हो रहे हैं।

दुनिया के टॉप-20 देश जहां संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले हैं, उनमें से 16 देश ऐसे हैं जहां वायरस का कम्युनिटी ट्रांसमिशन हुआ है। WHO की रिपोर्ट के मुताबिक, सबसे ज्यादा आबादी वाला देश होने के बावजूद भारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन नहीं हो पाया। जहां कम्युनिटी ट्रांसमिशन हो रहा है, उनमें अमेरिका, ब्रिटेन, ब्राजील, फ्रांस, स्पेन, कोलंबिया, मैक्सिको जैसे देश शामिल हैं।

पिछले 3 महीने में देश में 43.16 लाख से ज्यादा मरीज ठीक हुए। इस दौरान रिकवरी की रफ्तार 12.7% बढ़ी है। इसके ठीक उलट अमेरिका में रिकवरी की रफ्तार में 3.5% की गिरावट आई है। अक्टूबर में यहां रिकवरी रेट 62.4% था, जो घटकर 59.5% रह गया। ब्राजील में 1.2% की बढ़ोतरी हुई है। सबसे खराब हालात फ्रांस के हैं। यहां रिकवरी रेट में 9.4% की गिरावट आई। अक्टूबर में फ्रांस के ठीक होने वाले मरीजों का प्रतिशत 16.7 था, जो अब घटकर महज 7.35% रह गया है।


Get the latest update about corona virus, check out more about truescoop hindi, Covid19, Corona & truescoop

Like us on Facebook or follow us on Twitter for more updates.